उत्तराखण्ड मुक्त विश्व विद्यालय में कार्यक्रम में मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत 26 करोड 18 लाख की धनराशि के कार्यो का लोकार्पण व शिलान्यास किया

Advertisement
ख़बर शेयर करें

उत्तराखण्ड मुक्त विश्व विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में सूबे के मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा वैदिक मंत्रों के बीच लगभग 26 करोड 18 लाख की धनराशि के कार्यो का लोकार्पण व शिलान्यास किया गया। जिसमें 4 करोड 27 लाख 21 हजार की धनराशि से नव निर्मित भवन का लोकार्पण व शिलान्यास में 87.48 लाख कुलपति आवास कार्य, 362.70 लाख के अतिथि गृह, 293.70 लाख के बहुउद्देशीय हाॅल, 228.93 लाख के दो ब्लाॅक टाईप-2 के 12 आवासों, 612.16 लाख के विज्ञान ब्लाॅक, 77 लाख के परिसर आन्तरिक सड़के, 494.52 लाख के अध्ययन सामग्री उत्पादन एवं वितरण ब्लाक, 33.86 लाख के परिसर में ड्रेनेज एवं पाथ कार्यो का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने देहरादून में मुक्त विश्व विद्यालय कैम्पस बनाने हेतु भूमि देने की घोषणा की।
कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि दूरस्थ शिक्षा से कोई भी व्यक्ति अपनी सेवा के साथ ही योग्यता बढा सकता है। उन्होने कहा कि सभी विश्विद्यालय अपनी स्किल को बढाकर सरकारों को योजना बनाने में सुझाव दें ताकि प्रदेश मे धरातलीय योजना बनाकर त्वरित सकारात्मक विकास हो सके। रावत ने कहा उत्तराखण्ड प्रदेश का प्रथम राज्य है जहां महिलाओं को पैतृक सम्पत्ति का अधिकार सरकार द्वारा दे दिया गया है।

Advertisement

उन्होने कहा कि महिलाओ को आगे बढाने व स्वावलम्बी बनने यह अधिकारी अति महत्वपूर्ण साबित होगा। इससे समाज में क्रान्तिकारी व सकारात्मक परिवर्तन आयेगा। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश में जलजीवन मिशन शुरू किया है हम केन्द्र के सहयोग से ग्रामीण क्षेत्र मे मात्र एक रूपये व शहरी क्षेत्रों में मात्र सौ रूपये में पेयजल संयोजन दे रहे है। उन्होने कहा कि प्रदेश में नदी, नालों जलस्रोत्रों को पुर्नजीवित करने की पहल बडे स्तर पर की जा रही है। उन्होेने कहा कि आगामी 16 जुलाई हरेला दिवस पर व्यापक पौधारोपण किया जायेगा। उन्होने जनता से हरेला दिवस पर पौधारोपण में सहभागिता करने की अपील की।
मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि सरकार महिलाओं की पीढा को समझते हुए उन्हें सशक्त बनाने हेतु मुख्यमंत्री घस्यारी योजना संचालित करने जा रही है। इसके तहत सस्ता गल्ला के तर्ज पर प्रदेेश में 7771 केन्द्रांे के माध्यम से गांवों तक पशुओं को सस्ता चारा उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होने कहा कि प्रदेश में 20 हजार महिला समूहांे को 5 लाख का ब्याज मुक्त ऋण शीघ्र दिया जायेगा। उन्होने कहा हम किसानों को बिना ब्याज के ऋण उपलब्ध करा रहे है। जिन किसान भाईयों के पास कृषि उपकरण नहीं है, उनके लिए हमने फार्म मशीनरी बैंक योजना शुरू की है। इसके लिए 80 प्रतिशत तक सब्सिडी उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होने कहा कि पर्यटन को उद्योग का दर्जा दिया है। होम-स्टे के माध्यम से पर्यटन अब ग्रामीणों की आजीविका का साधन बन रहा है। 13 जिलों में 13 नए थीम बेस्ड डेस्टीनेशन विकसित किये जा रहे है।
अपने सम्बोधन मे उच्चशिक्षा राज्य मंत्री डा0 धन सिह ने उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय मे लोकार्पण व शिलान्यास पर सभी को बधाई देते हुये कहा कि मुक्त विश्वविद्यालय आगामी वर्षो मे देश का प्रथम विश्वविद्यालय बनेगा। उन्होने बताया कि मुक्त विश्वविद्यालय मे वर्तमान मे लगभग 90 हजार शिक्षार्थी शिक्षा ग्रहण कर रहे है, जिसमे 55 प्रतिशत महिलायें है। रावत ने कहा एक वर्ष मे सरकार द्वारा एक हजार प्रोफेसरों की नियुक्ति की गई है। शीघ्र ही चार लाख विद्यार्थियों को वाईफाई से जोडा जायेगा। उन्होने कहा कि डेयरी योजना मे दुग्ध उत्पादन को प्रोत्साहित करने हेतु दुग्ध उत्पादक को 4 रूपये प्रोत्साहन राशि सरकार द्वारा दी जा रही है।

बतौर अध्यक्षता करते हुये विधायक नवीन दुम्का ने सभी का स्वागत करते हुये लालकुआं विधानसभा क्षेत्र मे 31 करोड की गौजाजली पेयजल योजना, डेयरी हेतु भूमि स्वीकृत करने, लालकुआ क्षेत्र में वन से लगी भूमि जंगली जानवरों से बचाव हेतु सोलर लाईट एवं फेंसिंग स्वीकृत करते हुये कार्य प्रारम्भ करने हेतु मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।
कुलपति ओपीएस नेगी ने कार्यक्रम मे सभी का आभार व्यक्त करते हुये मुक्त विश्वविद्यालय के क्रियाकलापों की विस्तृत जानकारियां दी और कहा कि दूरस्थ शिक्षा प्रदेश के लिए वरदान है। उन्होने देहरादून मे मुक्त विश्वविद्यालय कैम्पस भूमि आवंटित करने शिक्षक व स्टाफ की तैनाती, 08 क्षेत्रीय केन्द्रों हेतु भूमि स्वीकृत कराने, आईटी अकादमी की स्थापना, हिमालयन अध्ययन केन्द्र की स्थापना के साथ ही साइंस लैब की स्थापना की मांग रखी।
कार्यक्रम मे अध्यक्ष जिला पंचायत बेला तोलिया, प्रदेश अध्यक्ष व विधायक बंशीधर भगत, दीवान सिह बिष्ट, संजीव आर्य, रामसिह कैडा, मेयर डाॅ.जोगेन्द्र पाल सिह रौतेला, जिलाध्यक्ष भाजपा प्रदीप बिष्ट, दर्जा मंत्री डा0 बीएस बिष्ट, गजराज बिष्ट, तरूण बंसल, प्रकाश हर्बोला, अजय राजौर,मजहर नईम नवाब,पीसी गोरखा, मण्डी अध्यक्ष मनोज साह,उपाध्यक्ष केएमवीएम रेनू अधिकारी,प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत, उपाध्यक्ष जिला पंचायत आनन्द दरम्वाल,राजेन्द्र सिह नेगी, राजेन्द्र सिह बिष्ट, दीपक मेहरा, जन सम्पर्क अधिकारी मा. मुख्यमंत्री विजय बिष्ट, आरसी बिन्जौला,प्रदीप जनौटी, शान्ति भटट, दिनेश खुल्वे, संजय दुम्का, प्रमोद बोरा, राहुल झिगरन, कमल नयन जोशी,चतुर बोरा,हरीश बेलवाल, चन्द्र प्रकाश तिवारी,रूकमणी देवी, बहादुर नदगली, आलम नदगली, विनीत अग्रवाल के अलावा आयुक्त/सचिव मा. मुख्यमंत्री अरविन्द सिह हृयांकी, आईजी अजय रौतेला,जिलाधिकारी धीराज सिह गर्ब्याल,एसएसपी प्रीति प्रियदर्शनी,अपर सचिव मुख्यमंत्री डाॅ. मेहरबान सिह बिष्ट, मुख्य विकास अधिकारी नरेन्द्र सिह भण्डारी, अपर जिलाधिकारी केएस टोलिया, सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिह, कुल सचिव एचएस नयाल, प्रो भरत सिह रावत,प्रो गिरजा पाण्डे, प्रो0 पीडी पाण्डे,प्रो0 दुर्गेश पंत, पीआरओ राकेश रयाल के अलावा अनेक गणमान्य, विश्वविद्यालय का स्टाफ व अधिकारी मौजूद थे।

 153 total views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *