अटल उत्कृष्ट विद्यालयों को लेकर शिक्षा विभाग ने लिया बड़ा फैसला

Advertisement
ख़बर शेयर करें

देहरादून– उत्तराखंड बोर्ड से संबद्ध सरकारी और सहायताप्राप्त अशासकीय विद्यालयों का नया शैक्षिक सत्र भले ही जुलाई तक खिसक गया हो, लेकिन हर ब्लाक में दो-दो अटल उत्कृष्ट विद्यालयों को एक अप्रैल से ही खोलने की तैयारी है। इन विद्यालयों को सीबीएसई से मान्यता दिलाने को सरकार की कोशिशें रंग लाईं हैं। सीबीएसई मान्यता आवेदन के लिए अपनी वेबसाइट एक मार्च से खोलने को राजी हो गई है। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने उक्त सभी विद्यालयों को मान्यता लेने की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए हैं।
प्रदेश के हर ब्लाक में दो-दो अटल उत्कृष्ट विद्यालय बनाए जा रहे हैं। इसके लिए राजकीय इंटर कालेज भवनों का चयन किया जा चुका है। अभी तक 188 विद्यालय चिह्नित किए जा चुके हैं। सभी अटल उत्कृष्ट विद्यालय सीबीएसई से संबद्ध होंगे। सरकार इन्हें नए सत्र से संचालित करने पर जोर दे रही है। इन विद्यालयों को सीबीएसई से मान्यता दिलाने में परेशानी पेश आ रही थी। सीबीएसई ने कोरोना की वजह से मान्यता आवेदन के लिए अपना पोर्टल बंद किया हुआ है। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने सीबीएसई के चेयरमैन को पत्र लिखकर व दूरभाष पर वार्ता कर पोर्टल खोलने का अनुरोध किया था। इस अनुरोध को सीबीएसई मंजूर कर चुका है। एक-दो दिन में तमाम विद्यालय मान्यता लेने को आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ करेंगे।
सीबीएसई के साथ आनलाइन बैठक में यह सहमति बन चुकी है कि हर विद्यालय आगामी तीन वर्ष के भीतर स्थायी मान्यता के संबंध में भूमि व भवन समेत सभी जरूरी औपचारिकता पूरी कर दी जाएंगी। शिक्षा सचिव ने सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को इस संबंध में तेजी से कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। जिन अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में वनभूमि या अन्य पेच थे, उन्हें सुलटा लिया गया है। उम्मीद की जा रही है कि आगामी मार्च माह में मान्यता लेने की कार्यवाही पूरी होगी। सीबीएसई के साथ ही अटल उत्कृष्ट विद्यालयों को भी आगामी एक अप्रैल से प्रारंभ हो रहे नए सत्र में शुरू किया जाएगा।

Advertisement

 177 total views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *