उत्तराखंड

प्रीतम सिंह का बंशीधर को जवाब , जिसके घर शीशे के होते हैं वो दूसरे के घर मे पत्थर नहीं मारा करते

उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने पार्टी में बगावत को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत की टिप्पणी पर तीखा पलटवार किया। उन्होंने कहा कि भाजपा को पहले सरकार के अंतर्द्वंद की सुध लेनी चाहिए। नसीहत देते हुए कहा, ‘जिनके घर शीशे के होते हैं, दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकते।’ राजीव भवन में शनिवार को मीडिया से बातचीत में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भाजपा और सरकार के भीतर अंतर्द्वंद को पूरा प्रदेश देख रहा है। मुख्यमंत्री, मंत्रियों और विधायक एकदूसरे को कठघरे में खड़ा कर रहे हैं। इससे चिंतित भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अपने कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलने में जुटे हुए हैं। संसदीय कार्यमंत्री मदन कौशिक और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत रोजगार के आंकड़ों को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं। हरिद्वार में महाकुंभ में निर्माण कार्यों के लिए धनराशि कम दी गई, इससे संत समाज भी नाराज है। इस राशि से होने वाले काम में भ्रष्टाचार की शिकायत केंद्रीय शिक्षा मंत्री कर रहे हैं। कांग्रेस 2022 में बनाएगी सरकारएक सवाल के जवाब में प्रीतम सिंह ने कहा कि 2017 में कांग्रेस को महज 11 सीटों पर सिमट जाना कटु सत्य है। तब पार्टी कई सीट बहुत कम मार्जिन से हारी थी। अब प्रदेश की जनता सरकार के नकारेपन से दुखी है। 2022 में जनता सरकार को सबक सिखाएगी। कांग्रेस भारी बहुमत के साथ सरकार का गठन करेगी। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी मुस्तैदी से तैयारी में जुटी है।

To Top