राज्य में बिजली का कनेक्शन लेना महंगा हो गया , उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने नये रेट जारी कर दिए

राज्य में बिजली का कनेक्शन लेना महंगा हो गया है। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने नये रेट जारी कर दिए हैं। दो से पांच किलोवॉट तक का कनेक्शन लेने पर रेट 800 रुपये से लेकर 1500 रुपये तक बढ़ा दिए गए हैं। राज्य में एलटी कनेक्शन के रेट आठ साल और एचटी कनेक्शन के रेट 12 साल बाद बदले गए हैं।
आयोग की ओर से जारी नए रेटों के मुताबिक चार किलोवाट तक का कनेक्शन लेने पर अब सर्विस लाइन चार्ज 600 रुपये के बजाय 1000 रुपये देना होगा। अंडरग्राउंड लाइन से कनेक्शन लेने पर सर्विस लाइन चार्ज 1200 रुपये से बढ़ा कर 2000 रुपये किया गया।
उपभोक्ता के आवास से लाइन 40 मीटर दूर होने पर सर्विस लाइन चार्ज प्रति दस मीटर अब 1500 रुपये होगा। जो पहले 1000 रुपये था। घरेलू उपभोक्ताओं के लिए सिक्योरिटी 400 रुपये प्रति किलोवाट से बढ़ा कर 600 रुपये प्रति किलोवाट कर दी गई है। अघरेलू कनेक्शन और एलटी इंडस्ट्री के लिए सिक्योरिटी 1000 रुपये से बढ़ा कर 1500 रुपये की गई।
उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने चार से दस किलोवाट क्षमता के बिजली कनेक्शनों के भी दाम बढ़ा दिए हैं। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग के सदस्य तकनीकी एमके जैन की ओर से यह रेट जारी किए गए हैं।
नए रेट के मुताबिक चार किलोवाट से 10 किलोवाट तक के कनेक्शन में सर्विस लाइन चार्ज 1500 रुपये से 2000 रुपये, अंडर ग्राउंड कनेक्शन के लिए 3000 रुपये से 5000 रुपये किया गया है। 40 मीटर से अधिक दूरी पर कनेक्शन होने पर 4500 रुपये प्रति दस मीटर सर्विस लाइन चार्ज होगा। जो पहले 3000 रुपये रहा।
दस किलोवॉट तक घरेलू उपभोक्ताओं के लिए सिक्योरिटी 400 रुपये से 600 रुपये प्रति किलोवॉट, अघरेलू में 1000 रुपये से 1500 रुपये, एलटी इंडस्ट्री में 1000 रुपये से 2000 रुपये की गई।

दस से 25 किलोवॉट कनेक्शन में सर्विस लाइन चार्ज 2500 रुपये से 5000 रुपये, घरेलू सिक्योरिटी 400 रुपये से 600 रुपये, अघरेलू 1000 रुपये से 1500 रुपये, एलटी इंडस्ट्री कनेक्शन 1000 रुपये से 1500 रुपये प्रति किलोवॉट की गई।
बीपीएल श्रेणी के उपभोक्ताओं को राहत: बीपीएल श्रेणी के उपभोक्ताओं के कनेक्शन रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है। बीपीएल उपभोक्ता यदि एक किलोवॉट का कनेक्शन लेता है 200 रुपये देने होंगे। दो किलोवॉट के कनेक्शन पर 300 रुपये, तीन किलोवॉट कनेक्शन पर 400 रुपये देने होंगे। उपभोक्ताओं के कनेक्शन के लिए नये रेट जारी कर दिए हैं। इस व्यवस्था से पुराने उपभोक्ताओं पर अब अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ेगा। पुराने रेट पर नये उपभोक्ताओं को कनेक्शन पर निगम पर अतिरिक्त भार पड़ रहा था। ये खर्चा नये बिजली टैरिफ को तय करने के दौरान आम उपभोक्ताओं पर पड़ रहा था। अब इसमें राहत मिलेगी।
एमके जैन, सदस्य तकनीकी उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग

 45 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *