अब कोरोना संक्रमित का इस आधुनिक रिमोट डिवाइस से किया जा सकेगा इलाज देखिये कैसे

घर बैठे ‘मोनाल’ से होगा कोरोना संक्रमित मरीज का इलाज। एम्स में मुख्यमंत्री ने किया आधुनिक रिमोट डिवाइस का लोकार्पण। कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद सामान्य स्थिति वाले मरीजों को अब इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसके लिए एम्स प्रशासन ने भारत इलेक्ट्रोनिक्स लिमिटेड और इलेक्ट्रानिक्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया की मदद से आधुनिक रिमोट डिवाइस तैयार की है। इस सिस्टम से कोरोना मरीज के स्वास्थ्य संबंधी तमाम स्थिति एम्स के कंट्रोल सेंटर में प्रदर्शित होती रहेगी। मरीज की स्थिति बिगड़ने पर यह डिवाइस कंट्रोल रूम उसे भी प्रदर्शित करेगी, जिसके बाद संक्रमित मरीज को संस्थान लाकर मेजर ट्रीटमेंट देकर स्वस्थ किया जा सकेगा। एम्स ऋषिकेश में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस अनोखी रिमोट डिवाइस का लोकार्पण किया है। सीएम ने इस रिमोट डिवाइस को उत्तराखंड के राजकीय पक्षी ‘मोनाल’ का नाम दिया है। कहा कि यह डिवाइस कोराेना वायरस की लड़ाई में एक क्रांति लाएगी, जोकि मील का पत्थर साबित होगी। मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि सरकार की ओर से इस डिवाइस के ​क्रियान्वयन में हरसंभव मदद दी जाएगी। एम्स निदेशक प्रोफेसर रविकांत ने बताया कि 200 मरीजों पर सफल परीक्षण के बाद इस रिमोट डिवाइस को इस्तेमाल में लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि डिवाइस के यूज़ से कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज पर व्यय होने वाली धनराशि से राहत मिलेगी। मेडिकल स्टाफ को भी संक्रमण से बचाने में मदद मिलेगी।

 123 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May have Missed