एसटीपी से गंदा पानी छोड़ने पर होगा मुकदमा दर्ज पढिये कहाँ

ख़बर शेयर करें

ऋषिकेश। पिछले काफी समय से ढालवाला क्षेत्र के लोगों के लिए दुर्गंध का पर्याय बन चुके चोर पानी स्थित सीवर ट्रीटमेंट प्लांट से केवल ट्रीट किया हुआ साफ पानी ही अब चंद्रभागा नदी में डाला जाएगा। गंदा पानी नदी में छोड़ने पर संबंधित कंपनी और ठेकेदार के विरुद्घ प्रशासन और पालिका की ओर से मुकदमा दर्ज किया जाएगा। स्थानीय लोगों की शिकायत पर शनिवार को एसटीपी का निरीक्षण करने पहुंचे कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने उपजिलाधिकारी और पालिकाध्यक्ष को यह निर्देश दिए। साथ ही एसटीपी की लगातार मॉनिरटरिंग करने के लिए भी कहा।गौरतलब है कि नमामि गंगे प्रोजेक्ट के अनुसार ढालवाला ‌स्थित चोर पानी में साढ़े पांच एमएलडी का एसटीपी बनाया गया है। चौदह बीघा, ढालवाला, शीशमझाड़ी, तपोवन आदि क्षेत्रों से बहने वाले सीवर को यहां ट्रीट करने का कार्य किया जाता है। इसके बाद इस पानी को चंद्रभागा नदी में डाला जाता है। मगर इस पानी से लगातार उठने वाली दुर्गंध ढालवाला के लोगों के परेशानी का सबब बन गई। आलम यह रहा कि सुबह-शाम स्वच्छ हवा के लिए सैर सपाटे पर बाहर जाने वाले लोग घरों में दुबकने के लिए मजबूर हो गए। साथ ही घर की छतों पर लोगों का आना दुश्वार हो गया। स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत कई बार नमामि गंगे के अधिकारियों से भी की। मगर इसके बावजूद समस्या से निजात नहीं मिल पाई।

इस क्रम में जनप्रतिनिधियों और स्थानीय लोगों की शिकायत पर शनिवार को कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल एसटीपी का निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने एसटीपी में चल रही मशीनों, टैंकों आदि का निरीक्षण किया। साथ ही इसमें सीवर को ट्रीट करने के लिए प्रयोग किए जाने वाली तकनीकी के बारे में भी जाना। इसके बाद उन्होंने प्लांट से बाहर छोड़े जाने वाले ट्रीट पानी का निरीक्षण भी किया। जिसमें उन्होंने पाया कि ट्रीट किया हुआ पानी साफ व दुर्गंधरहित है। इस पर स्थानीय लोग भड़क गए और कंपनी कर्मियों पर अन्य दिनों गंदा पानी छोड़ने का आरोप लगाने लगे। इस पर कैबिनेट मंत्री ने मौके पर उपस्थित उपजिलाधिकारी युक्ता मिश्र और पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी को लगातार एसटीपी की मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। सा‌थ ही प्लांट से गंदा पानी छोड़ते हुए पाए जाने पर कार्यदायी कंपनी और प्रोजक्ट मैनेजर के विरुद्घ मुकदमा दर्ज करने के आदेश भी दिए।

इस मौके पर अपर सचिव पेयजल नमामि गंगे उदयराज, तकनीकी सलाहकार प्रभातराज, परियोजना प्रबंधक केके रस्तोगी, डीएफओ धर्म सिंह मीणा, उपप्रभागीय वनाधिकारी बीबी मर्तोलिया, रेंज अधिकारी आरपीएस नेगी, एमएस रावत, स्पर्श काला, सभासद विनोद सकलानी आदि उपस्थित थे।

कैबिनेट मंत्री ने रोपा पौधा।              ढालवाला के चोर पानी में एसटीपी का निरीक्षण करने के दौरान कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने यहां रूद्राक्ष का पौधा भी रोपा। इसके बाद अपर सचिव पेयजल नमामि गंगे उदयराज ने भी यहां रुद्राक्ष का पौधा रोपा।

आरबीएनएल के अधिकारियों को दिए चंद्रभागा के गड्डे भरवाने के निर्देश

रेलवे विकास निगम की ओर से चंद्रभागा नदी में चल रहे ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन के कार्य के दौरान चंद्रभागा नदी में कई जगह पर खुदाई कर दी गई। निरीक्षण के दौरान कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने पाया कि इन गड्डों में बड़ी मात्रा में गंदा सीवर का पानी इकट्ठा हो रखा है। जिससे भयंकर बदबू आ रही है। इस पर कैबिनेट मंत्री ने तत्काल फोन पर आरबीएनएल के अधिकारियों को सीवर से भरे गड्डे तत्काल ढ़कने के निर्देश दिए।

 326 total views

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *