केदारनाथ उत्थान चैरिटेबल ट्रस्ट ने कोल इंडिया लिमिटेड के साथ 19 करोड़ के एमओयू पर किये हस्ताक्षर

Advertisement
ख़बर शेयर करें

देहरादून 30 मार्च, 2021। बदरीनाथ धाम को ‘‘स्मार्ट स्प्रिचुअल हिलटाउन’’ के रूप में विकसित करने के लिए केदारनाथ उत्थान चैरिटेबल ट्रस्ट ने कोल इंडिया लिमिटेड के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षरित किया। इस एमओयू के तहत कोल इंडिया लिमिटेड 19 करोड़ रुपए बदरीनाथ धाम के विकास कार्यों के लिए प्रदान करेगा।उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परषिद गढ़ीकैंट कार्यालय में मंगलवार को केदारनाथ उत्थान चैरिटेबल ट्रस्ट (केयूसीटी) की ओर से पर्यटन

Advertisement

सचिव दिलीप जावलकर और कोल इंडिया लिमिटेड की ओर से निदेशक (पी एण्ड आईआर) एसएन तिवारी ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये। एमओयू के अनुसार, कोल इंडिया लिमिटेड की काॅर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी पहल के तहत राशि दी जा रही है। इस राशि का उपयोग बद्रीनाथ में सड़क निर्माण कार्यों के लिए किया जाएगा।पर्यटन सचिव उत्तराखंड दिलीप जावलकर ने कहा कि हम बद्रीनाथ को आध्यात्मिक स्मार्ट हिल टाउन के रूप में विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और सक्रिय रूप से लगातार काम कर रहे हैं। इसके लिए विभिन्न सार्वजनिक क्षेत्र की इकाईयां (पीएसयू) भी हमारे साथ जुड़कर अपनी काॅर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी (सीएसआर) के तहत विकास कार्यों के लिए पहल कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि इससे पहले बदरीनाथ धाम को ‘स्मार्ट स्प्रिचुअल हिलटाउन’ के रूप में विकसित करने के लिए केदारनाथ उत्थान चैरिटेबल ट्रस्ट ने पावर ग्रिड काॅर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड और सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड (एसजेवीएनएल) के बीच एमओयू हस्ताक्षर किया गया था। आने वाले दिनों में भी विभाग टिहरी हाइड्रो पावर कॉम्प्लेक्स (टीएचडीसी),तेल और प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) और नेशनल हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर कॉर्पोरेशन (एनएचपीसी) के साथ 245 करोड़ रुपये के एमओयू पर हस्ताक्षर करने जा रहा हैं। जिससे बद्रीनाथ धाम के विकास कार्यों में तेजी लाई जा सके। एमओयू पर हस्ताक्षर के दौरान उप निदेशक उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद जितेन्द्र कुमार, ईडी सीआईएल बी0 साईराम, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी रमेश प्रसाद सेमवाल मौजूद रहे।

 228 total views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *