बिग ब्रेकिंग:- दो गज की दूरी मास्क है जरूरी, याद है ना अब उत्तराखंड में 5 दिन 5 बजे तक बाजार खुलेंगे

Advertisement
ख़बर शेयर करें

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर प्रदेश में लागू कोविड कर्फ्यू अधिक ढील के साथ 29 जून सुबह छह बजे तक बढ़ा दिया गया है। इस हफ्ते शनिवार व रविवार को छोड़कर पांच दिन सुबह आठ से शाम पांच बजे तक बाजार खुलेंगे। मंगलवार से होटल, रेस्टोरेंट को 50 फीसद क्षमता के साथ डाइनिंग खोलने की छूट दी गई है। बार भी अब आधी क्षमता के साथ खुलेंगे। सरकारी, गैर सरकारी व निजी कार्यालयों को 50 फीसद क्षमता के साथ खोलने का निर्णय लिया गया है, जबकि आवश्यक सेवाओं के दफ्तर पूरी क्षमता के साथ खोले जाएंगे। दूसरे राज्यों से उत्तराखंड आने वालों के लिए कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की गई है।
प्रदेश में वर्तमान में लागू कोविड कफ्र्यू की अवधि 22 जून को सुबह छह बजे समाप्त हो रही है। इस बीच कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर भी अंकुश लगा है। रविवार को ही लें तो प्रदेशभर में कोरोना संक्रमण के 136 नए मामले सामने आए। इस सबको देखते हुए कोविड कफ्र्यू में अधिक ढील देने की मांग निरंतर उठ रही थी। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में सभी पहलुओं पर विमर्श के बाद कोविड कफ्र्यू को 29 जून तक बढ़ाने और इस दौरान अधिक रियायतें देने का निर्णय लिया गया।
सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने रविवार को मीडिया से बातचीत में सरकार के इन फैसलों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अभी तक कफ्र्यू के दौरान तीन दिन बुधवार, शुक्रवार व सोमवार को बाजार खुल रहे थे। वर्तमान में लागू कफ्र्यू के तहत सोमवार को बाजार खुलेंगे, जबकि मंगलवार से नई व्यवस्था होने पर शुक्रवार तक बाजार खुलेंगे। इस तरह इस हफ्ते पांच दिन बाजार खुले रहेंगे। होटल, रेस्टोरेंट को 50 फीसद क्षमता के साथ डायनिंग की छूट दी गई है, मगर ये रात 10 से सुबह छह बजे तक बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि सरकारी दफ्तर भी खोलने का निश्चय किया गया है, जिसके संबंध में सामान्य प्रशासन की ओर से आदेश जारी किए जाएंगे। प्रदेश में सिनेमाहाल, शापिंग माल, जिम, खेल संस्थान, स्टेडियम, खेल मैदान, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, आडिटोरियम अग्रिम आदेशों तक बंद रहेंगे। कैबिनेट मंत्री उनियाल ने कहा कि क 28 जून को परिस्थितियों की समीक्षा की जाएगी और फिर आगे कफ्र्यू जारी रखने या हटाने के संबंध में फैसला लिया जाएगा। हालांकि, उन्होंने संकेत दिए कि कोरोना से सुरक्षा के मद्देनजर प्रदेश में आगे भी रात्रि कफ्र्यू जारी रखा जा सकता है।

Advertisement

 125 total views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *