पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, एक बेटी ने कोरोना से खोया पिता तो ऐसे समय मे पिता की तरह फर्ज निभाया पूर्व मुख्यमंत्री ने

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में कोरोनावायरस के हालात खराब हो रहे हैं लेकिन इन सबके बीच कुछ ऐसी खबरें भी आ रही हैं जो दिल को जरूर सुकून देती है इंसानियत अभी भी बची है जी हां आजम बताने जा रहे हैं कि ऐसी बेटी की कहानी जिसने अपने पिता को कोरोनावायरस के संक्रमण से खो दिया लेकिन इस बेटी के लिए एक पिता की तरह सामने आए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी हां ग्राफ़िक एरा यूनिवर्सिटी की छात्रा देवाश्री शर्मा का अपने पिता की कोरोना से असामयिक मृत्यु के पश्चात उत्पन्न हुई वित्तीय समस्याओं के कारण फ़ीस माफ़ी की अपील का वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत जी के संज्ञान में तुरंत ही उन्होंने उस बेटी के दर्द को समझा और देवाश्री बेटी को ट्वीट के माध्यम से उन्हें पढ़ाई पर ध्यान लगाने को कहा और उन्हें भरोसा दिलाया कि फ़ीस के भुगतान की ज़िम्मेदारी मेरी होगी।

उसके पश्चात संवेदनशील पूर्व सीएम ने ग्राफ़िक यूनिवर्सिटी के संचालक घनसाला जी से बात की और घनसाला जी ने देवाश्री बिटिया की फ़ीस को वहन करने के पूर्व सीएम के प्रस्ताव के बदले यूनिवर्सिटी के माध्यम से देने की पेशकश की। पूर्व सीएम ने ट्वीट कर बिटिया को पढ़ाई पर ध्यान देने के लिए कहा ताकि वो अपने पिता के सपने को साकार कर सके। पूर्व सीएम ने कहा कि बिटिया के साथ उनका आशीर्वाद है।पूर्व सीएम ने ट्वीट कर प्रदेश की प्रबुद्ध जनता से विनती की है कि सभी कोरोना की मार झेल रहे परिवारों की मदद को आगे आएँ और जितना सम्भव बन सके, अपने आसपास ज़रूरतमंदो की मदद अवश्य करें। उनके दुःख की घड़ी में मदद करना समाज और हम सभी की ज़िम्मेदारी है। उन्होंने सभी से मिलजुल कर इस वैश्विक संकटकाल का मुकाबला करने की भी अपील की है।

 121 total views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *