जेल से फरार नाबालिग कैदी निकला दो बच्चों का पिता, छानबीन के बाद  बड़ा तथ्य आया सामने

ही में शहर की बच्चा जेल से फरार हुए सात कैदियों की छानबीन में बड़ा तथ्य सामने आया है। दरअसल प्लान का मास्टरमाइंड कहा जाने वाला कथित नाबालिग शादी-शुदा निकला। इतना ही नहीं उसकी ढाई साल की बेटी और नौ महीने का बेटा भी है।
घपलेबाज़ी हर जगह है। हल्द्वानी कालाढूंगी रोड स्थित संप्रेक्षण गृह की बात करें तो यहां तो अलग ही कहानी बाहर आई है। हाल में जेल के द्वितीय तल पर बने बैरक से सात कैदी फरार हो गए। इन कैदियों ने पहले खिड़की में लगी रॉड को टेढ़ा किया और फिर जाली फ़ाड़ दी। बाद में चादर से रस्सी बनाकर नीचे उतरे और दीवार पर सीढ़ी लगा कर भाग निकले।
तलाश शुरू हुई तो पुलिस ने कैदियों के परिवार से संपर्क साधा। तलाशी में जब शुक्रवार को पुलिस एक कैदी के घर लालकुआं पहुंची तो आलम देख कर हैरान रह गई। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, करीब चार साल पहले ही उसका विवाह हो चुका है। उसकी ढाई साल की बेटी व नौ महीने का बेटा भी है।
पुलिस का कहना है कि शैक्षिक अभिलेखों के अनुसार नाबालिग होने के कारण व्यक्ति को संप्रेक्षण गृह में रखा गया था। लालकुआं के सुभाषनगर का निवासी कथित किशोर 8 मार्च को पकड़ा गया था। आरोप मादक पदार्थों को तस्करी के थे।
पुलिस द्वारा पता चला कि कथित किशोर के पकड़े जाने पर पुलिस उसका मेडिकल टेस्ट कराएगी। जिससे उसकी असली उम्र का पता लग सकेगा। इसके अलावा अफसरों ने बताया कि पुलिस ने शैक्षणिक अभिलेखों की जांच करने की तैयारी शुरू कर दी है।
एसपी सिटी डॉ. जगदीश चंद्र ने बताया कि फरार किशोरों के पकड़ में आने पर मेडिकल टेस्ट के आधार पर उम्र का पता लगाया जाएगा। न्यायालय में लगाए गए शैक्षणिक या अन्य दस्तावेजों की जांच भी होगी। जानकारी के अनुसार एक किशोर के दिल्ली व एक के किच्छा की ओर होने की सूचना मिली है। जल्द ही सब को पकड़ लिया जाएगा। सभी फरार किशोरों के स्वजनों से पुलिस संपर्क में है।

 79 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *