देहरादून। विधानसभा चुनाव में भले ही सालभर का वक्त हो, लेकिन भाजपा चुनावी मोड में आ गई है। प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी की शनिवार को हुई मैराथन बैठक में विधानसभा चुनाव में इस बार 60 सीटें जीतने का लक्ष्य निर्धारित करते हुए इसकी प्राप्ति के लिए जी-जान से जुटने का निर्णय लिया गया। इस अवसर पर मार्च तक कार्यक्रम भी निर्धारित किए गए। तय हुआ कि सभी मंत्री और दायित्वधारी अनिवार्य रूप से जिलों का दौरा करेंगे। मुख्यमंत्री इसकी मानीटरिंग करेंगे और फिर माहभर बाद रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेजी जाएगी। बैठक में विधानसभा की रिक्त हुई सल्ट सीट के उपचुनाव के मद्देनजर प्रभारी नियुक्त करने के साथ ही विभिन्न समितियों का गठन भी किया गया।बीजापुर सेफ हाउस में शाम साढ़े छह बजे से रात साढ़े नौ बजे तक चली कोर कमेटी की बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव समेत विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई। कहा गया कि समूचे प्रदेश में पार्टी के पक्ष में माहौल है। पार्टीजनों में भी जबर्दस्त उत्साह है। कहा गया कि प्रत्येक कार्यकर्ता को विस चुनाव की तैयारी में अभी से जुट जाना चाहिए। बैठक में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, भाजपा के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, सह प्रभारी रेखा वर्मा, प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत, केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, सांसद तीरथ सिंह रावत, कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय कुमार, प्रदेश महामंत्री सुरेश भट्ट, कुलदीप कुमार आदि मौजूद थे।बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने बताया कि कोर कमेटी ने आगामी मार्च तक के विभिन्न कार्यक्रमों पर मुहर लगाई। तय कार्यक्रम के अनुसार 27 जनवरी को सल्ट में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर दिवंगत विधायक सुरेंद्र सिंह जीना को श्रद्धासुमन अर्पित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि फरवरी में भाजपा चिंतन बैठक करेगी, जबकि मार्च में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में चुनावी रणनीति पर विमर्श कर आगे कदम बढ़ाए जाएंगे।

प्रदेश सरकार के चार साल पूरे होने पर भाजपा भव्य कार्यक्रम आयोजित करेगी। भगत के अनुसार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देशों के क्रम में मंत्रियों, दायित्वधारियों के लिए जिलों का भ्रमण अनिवार्य किया गया है।कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि बैठक में विधानसभा की रिक्त हुई सल्ट सीट के उपचुनाव के मद्देनजर कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और भाजपा के प्रदेश महामंत्री सुरेश भट्ट को प्रभारी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि बैठक में विभिन्न समितियों का गठन भी किया गया। चिंतन बैठक के लिए राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल, राज्यमंत्री डा. धन सिंह रावत, प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय कुमार और प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार को जिम्मेदारी सौंपी गई है। बैठक में कुंभ, धान खरीद, पेयजल कनेक्शन समेत अन्य कई विषयों पर भी चर्चा की गई।छोटे-छोटे ग्रुप में किसानों के बीच जांएगे भाजपाई कैबिनेट मंत्री कौशिक के अनुसार बैठक में किसान आंदोलन पर भी चर्चा हुई। तय किया गया कि भाजपा कार्यकर्ता छोटे-छोटे समूहों में किसानों के बीच जाकर कृषि कानूनों को लेकर विपक्ष द्वारा फैलाए जा रहे भ्रम को दूर करेंगे।
कार्यक्रम
27 जनवरी
-सल्ट क्षेत्र में श्रद्धांजलि सभा 19 से 21 फरवरी
-मारचूला में चिंतन बैठक
13 और 14 मार्च
देहरादून में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक
18 मार्च
सरकार के चार साल पूरे होने पर भव्य कार्यक्रम

 104 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May have Missed