ग्रामीण प्रतिभाओं को तराशने में जुटी माँ गौरजा क्रिकेट समिति, समाजसेवी राकेश बिजल्वाण का भी मिला साथ

सतपुली, पौड़ी गढ़वाल। पौड़ी गढ़वाल जनपद के सतपुली ग्राम सीला बांघाट में माँ गौरजा क्रिकेट लीग 2021 के प्रथम संस्करण का फाइनल मुकाबला खेला गया। 8 जनवरी 2021 से शुरू हुए माँ गौरजा क्रिकेट लीग 2021 के प्रथम संस्करण का फाइनल मुकाबला रबाड़ा इलेवन चेलूसैण और मल्ली इलेवन की टीमों के बीच खेला गया। फाइनल मुकाबले का उद्घाटन सतपुली नगर पंचायत अध्यक्ष अंजना वर्मा, वरिष्ठ पत्रकार और समाजसेवी राकेश बिजल्वाण, समाजसेवी और व्यवसाई सुंदर सिंह चैहान के सुपुत्र त्रिलोक सिंह चैहान द्वारा किया गया। इस मौके पर गणमान्य लोग और दोनों टीमों के समर्थकों के अलावा बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद थे।
4 रन से दर्ज की रोमांचक जीत

फाइनल मुकाबले में मल्ली इलेवन के कप्तान मनदीप डोबरियाल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया । पहले बल्लेबाजी करते हुए रबाड़ा इलेवन चेलूसैण की टीम ने 14.1 ओवर में सभी विकेट गंवाकर 105 रनों का स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मल्ली इलेवन की टीम ने निर्धारित 15 ओवर में 9 विकेट खोकर 101 रन ही बना सकी। इस तरह फाइनल मुकाबले में रबाड़ा इलेवन चेलूसैण ने 4 रन से रोमांचक जीत दर्ज की। विजेता टीम को 21 हजार और उप-विजेता टीम को 11 हजार का इनाम फाइनल मैच की समाप्ति पर सतपुली नगर पंचायत अध्यक्ष अंजना वर्मा और समाजसेवी राकेश बिजल्वाण द्वारा खिलाड़ियों और समिति के सदस्यों को पुरस्कृत किया गया। जिसमें विजेता टीम रबाड़ा इलेवन चेलूसैण को 21 हजार रूपये की नगद राशि और ट्राफी दी गई। वहीं उपविजेता टीम मल्ली इलेवन को 11 हजार रूपये की नगद धनराशि और ट्राफी राकेश बिजल्वाण द्वारा दी गई। टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मल्ली इलेवन के सूरज को, सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी का पुरस्कार भी मल्ली इलेवन के सूरज को और सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी भी मल्ली इलेवन के लक्ष्मण को चुना गया। माँ गौरजा क्रिकेट लीग 2021 में अनुशासन के लिए रबाड़ा इलेवन चेलूसैण को पुरस्कृत किया गया ।

मां गौरजा क्रिकेट समिति की सराहनीय पहल
टूर्नामेंट के आयोजन में मां गौरजा क्रिकेट समिति के अध्यक्ष नितिन काला, उपाध्यक्ष मुकेश बहुगुणा और कोषाध्यक्ष विकास काला, सचिव शिवम काला व कमेटी के सभी सदस्यों, युवक मंगल दल सीला और समस्त ग्राम सभावासी सीला ने योगदान दिया। इस मैच के स्कोरर सौहार्द काला व कमेंटेटर की भूमिका वीरेंद्र व अनुराग काला ने निभाई। वहीं अंपायर की भूमिका में अंनत काला, आशुतोष डबराल व कैमरामैन की भूमिका नितेश काला ने निभाई। ग्रामीण प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने में मद्दगार हैं इस तरह के आयोजन- राकेश समाजसेवी और वरिष्ठ पत्रकार राकेश बिजल्वाण ने फाइनल में मौजूद टीमों और जनता को संबोधित करते हुए कहा कि खेल हमारे जीवन में आवश्यक हैं। जिनसे शारीरिक एवं बौद्धिक विकास होता है। ग्रामीण अंचलों में ऐसे आयोजनों से ग्रामीण प्रतिभाओं को तराशने का अवसर मिलता है। उन्हें और प्रोत्साहन मिलना चाहिए। मां गौरजा क्रिकेट समिति के इस प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभा को उभारने का जो काम किया जा रहा है इससे समाज में एक नया संदेश जाएगा। इस तरह के प्रयास ग्रामीण प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने में मद्दगार साबित होंगे। इसके लिए मां गौरजा क्रिकेट समिति बधाई की पात्र है।

राकेश बिजल्वाण ने कहा किसी भी खेल में जीत और हार मायने नहीं रखती है खेल को खेल की भावना के साथ खेला जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि यहां के युवाओं को दूसरे शहरों और प्रदेशों में जाकर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिले। इसके लिए वह अन्य राज्यों के क्रिकेट एकेडमी और समितियों से संपर्क करेंगे ताकि यहां के युवाओं को अपनी प्रतिभा निखारने का मौका मिल सके। राकेश बिजल्वाण ने कहा उनका प्रयास रहेगा कि समय-समय पर इस तरह के आयोजन होते रहने चाहिए। जिससे कि ग्रामीण युवाओं को अपनी प्रतिभा निखारने का अवसर प्राप्त होता रहे। इसके लिए वह हर संभव मद्त करेंगे।

 112 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *