कोरोना के नए स्टेन को लेकर उत्तराखंड में भी एहतियात , ब्रिटेन से आये यात्रियों के सेंपल भेजे पुणे

ब्रिटेन से उत्तराखंड लौटे सात संक्रमितों के सैंपल जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे भेजे गए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता लगेगा कि संक्रमितों में कोरोना वायरस का कौन सा स्वरूप है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया रूप मिला है। हाल ही में ब्रिटेन से उत्तराखंड लौटे सात लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें कोरोना का कौन सा रूप है, इसकी जांच के लिए सभी के सैंपल जांच के लिए  पुणे भेजे गए हैं। इन सात लोगों में पांच देहरादून, एक ऊधमसिंह नगर और एक नैनीताल जिले से है। दरअसल, प्रदेश की कोविड जांच प्रयोगशाला में अभी तक कोरोना के नए रूप की पहचान करने की सुविधा नहीं है।

इसीलिए सैंपल एनआईवी पुणे भेजे गए हैं। स्टेट कोविड कंट्रोल रूम के चीफ ऑपरेटिंग आफिसर डॉ.अभिषेक त्रिपाठी का कहना है कि दो-तीन दिनों के भीतर रिपोर्ट आने की उम्मीद है।ब्रिटेन से लौटे 23 लोगों में दो के नाम सूची में दो बार दर्ज ब्रिटेन से ऊधमसिंह नगर लौटे कोरोना जांच के लिए चिह्नित 25 लोगों में दो के नाम सूची में दो बार दर्ज हो गए, जबकि वास्तव में 23 लोग ही ब्रिटेन से लौटे थे। इनमें 15 लोगों की कोरोना जांच हो चुकी है,  शेष आठ लोगों में से छह का पता नहीं चल सका है। इनमें एक व्यक्ति रामपुर का बताया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने इसकी सूचना केंद्र और राज्य की आईडीएसपी यूनिट (इंटीग्रेटेड डीसीज सर्विलांस प्रोग्राम) और एलआईयू को भेज दी है। इधर, ब्रिटेन से लौटी संक्रमित महिला समेत दो लोगों के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए हैं।
कोरोना का नया रूप मिलने के बाद जिले में एक माह में ब्रिटेन से लौटे 25 लोग चिह्नित किए गए थे। बीते शुक्रवार को इनमें से 15 लोगों के सैंपल जांच के लिए सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी भेजे थे। 10 लोगों के आवास का पता नहीं मिलने के कारण सैंपलिंग नहीं हो सकी थी। शनिवार को इनमें से काशीपुर निवासी 39 वर्षीय महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई, जबकि 14 की रिपोर्ट निगेटिव निकली।

इधर, महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने और ब्रिटेन से लौटे अन्य लोगों का पता न चलने से स्वास्थ्य विभाग की चिंताएं बढ़ गई हैं। हालांकि इनमें से एक महिला हल्द्वानी और एक व्यक्ति जसपुर में मिल चुका है। शेष छह लोगों की तलाश के लिए स्वास्थ्य विभाग ने एलआईयू को सूचित किया है। साथ ही केंद्र और राज्य की आईडीएसपी यूनिट को सूची में दो नामों के दो बार दर्ज होने की सूचना भेज दी है। जांच में एक व्यक्ति रामपुर (यूपी) निवासी मिला है, जो पंतनगर एयरपोर्ट पर उतरने के बाद रामपुर चला गया था। अन्य लोग जिले के रुद्रपुर, बाजपुर और जसपुर के निवासी बताए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, हल्द्वानी में मिली महिला और जसपुर के एक व्यक्ति के सैंपल ले लिए गए हैं। उनके परिवार के सदस्यों को होम आइसोलेट किया गया है।
इंग्लैंड से लौटी महिला को अलग वार्ड में किया है भर्ती
इंग्लैंड से लौटी काशीपुर निवासी संक्रमित महिला को कोविड अस्पताल के अलग वार्ड में भर्ती किया गया है। आइसोलेशन प्रभारी डॉ. गौरव अग्रवाल ने बताया कि वार्ड में भर्ती महिला की हालत सामान्य है। काशीपुर में महिला के परिवार के सदस्यों को होम आइसोलेट किया गया है।
ब्रिटेन से लौटे 25 लोगों की आईडीएसपी यूनिट से सूची मिली थी लेकिन इस सूची में दो नाम दो बार दर्ज थे। ब्रिटेन से 23 लोग लौटे थे। इसकी सूचना केंद्र और प्रदेश की आईडीएसपी यूनिट को भेज दी है। सूची में एक ही नाम दो बार दर्ज होने की गलती जिलास्तर से नहीं हुई है। 23 में से 15 लोगों की कोराना जांच हो चुकी है। एक महिला पॉजिटिव और 14 लोग निगेटिव आए हैं। शेष आठ में से महिला समेत दो लोग मिल गए हैं, जबकि छह लोगों के मोबाइल नंबर स्विच ऑफ हैं। इसकी सूचना एलआईयू को भेज दी है।

 122 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *