सीएम के खिलाफ एजेंडा प्रचार जारी , 1 साल पहले की खबर को आज की बता कर रहे सोशल मीडिया में वायरल

Advertisement
ख़बर शेयर करें

देहरादून– उत्तराखंड में सीएम के खिलाफ सोशल मीडिया में भ्रमित करने वाली खबरें चलाने वालों की कमी नहीं है कोशिश यही रहती है की सरकार और मुख्यमंत्री को कितना बुरा भला कह ले कुछ जहाँ एजेंडे के तहत सरकार और सीएम के खिलाफ खबरें प्रसारित करने में जुटे रहते हैं वहीं कई ऐसे भी हैं जो अनजाने में खबरे फेसबुक में शेयर कर देते हैं ऐसे में एक ऐसी ही खबर फिर सोशल मीडिया में शेयर की जा रही है जिसमें मनोनीत नेताओं को तिगुना वेतन देने की घोषणा करना बताया जा रहा है इस खबर को इस तरह के से प्रसारित किया जा रहा है कि जैसे कोरोना काल में ही सरकार ने इसकी घोषणा की हो लेकिन सच्चाई इससे उलट है सरकार का यह फैसला लगभग 1 साल पुराना है और अखबार में छपी खबर भी 1 साल पुरानी है वर्तमान में सरकार ने कोरोना काल में कई निर्देश जारी किए हैं जिसमें सरकार विभागीय स्तर पर मितव्ययिता करने की बात कर रही है उसमें विधायकों की 30% सैलरी काटने के फैसले के साथ साथ विधायक निधि में कटौती इसके अलावा विभागीय स्तर पर कई तरीके के आदेश किए गए हैं जिसमें खर्चे कम करने के सरकार की तरफ से निर्देश दिए गए हैं राजस्व कोरोना काल में जिस तरह से कम हुआ है उसके बाद सरकार को एक कड़े फैसले लेने पड़े हैं लेकिन सरकार के फैसले को काउंटर करने के लिए कुछ लोग तेजी से 1 साल पुरानी खबर को प्रचारित कर रहे हैं जिससे भ्रम फैलाने की कोशिश की जा रही है

Advertisement

 188 total views