मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने खाया दलित के घर खाना सीएम ने कहा आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा 57 नहीं 60 सीट जीतेगी।

ख़बर शेयर करें

देहरादून । उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा 57 नहीं 60 सीट जीतेगी। वह बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती के मौके पर देहरादून के रायपुर में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि बाबा साहब का भारतीय लोकतंत्र में संविधान निर्माता का महत्वपूर्ण योगदान है। भीमराव अंबेडकर की जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने दलित नेता पूर्व प्रधान राम प्रसाद के घर भोजन ग्रहण किया। उनके साथ में प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, स्थानीय विधायक व अन्य मौजूद रहे।
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने भारत रत्न डॉ. भीमराव आंबेडकर की जयंती पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दीं हैं। अपने संदेश में उन्होंने कहा कि बाबा साहब ने समता, समानता, बंधुता एवं मानवता आधारित भारतीय संविधान का निर्माण कर राष्ट्रीय एकता, अखंडता और व्यक्ति की गरिमा की जीवन पद्धति से भारतीय संस्कृति को अभिभूत करने का महान कार्य किया है।उन्होंने कहा कि बाबा साहब का जीवन सभी जाति पंथ के लिए समानता के अवसर देने व सभी के अधिकारों की रक्षा हो सके के प्रति समर्पित रहा है। आज हमारे संविधान में देश के प्रत्येक नागरिक को चाहे वह किसी भी जाति, पंथ या संप्रदाय से हो, सभी को समान अधिकार दिया गया है इसका श्रेय बाबा साहेब को ही जाता है।तीरथ सिंह रावत ने कहा कि वह सरकारी भूमि पर बसी मलिन बस्तियों का विनियमित करेंगे। उनका सुधारीकरण और सौंदर्यीकरण भी करेंगे। मुख्यमंत्री ने रायपुर विधायक काऊ की तारीफ की। कहा कि नए वार्डो में टैक्स माफ भी किया गया। यहां 175 लोगों का कोरोना का टीकाकरण हो चुका है। कौन कहता है, टीके नहीं लग रहे। कहा कि पहाड़ के दूरस्थ क्षेत्रों के बुजुर्गों को घर जाकर टीका लगाने को कहा गया है। कहा कि रविदास भवन की मरम्मत में जो खर्च आएगा, मैं दूंगा।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम पहुंचे। कार्यक्रम के दौरान मंच पर कार्यकर्ताओं की भीड़ लग गई। कार्यक्रम में भीड़ बेहद कम रही। बड़ी संख्या में कुर्सियां खाली रहीं। कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि बाबा साहब ने हमेशा एक जैसे समाज की स्थापना के प्रयास किए। उन्होंने समाज की तमाम बुराइयों के बीच देश को महान बनाने के लिए कार्य किया। हिंदुस्तान में फैली तमाम बुराइयों को दूर करने के लिए काम करते रहे। कांग्रेस ने उन्हें हराने के काम किया। उन्हें भारत रत्न न देकर अपमानित किया गया। आम्बेडकर का अपमान करने वाले राजनीतिक दल को अपने वोट की ताकत से सबक सिखाएं।प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम ने कहा कि सभी नेताओं के स्मारक और संग्रहालय हैं, लेकिन बाबा साहब का कुछ नहीं दिखता। कांग्रेस ने हमेशा उनसे भेदभाव क़िया। आरक्षण का लाभ लेने वाले अपने बच्चों से जुड़ी चीजें संभालकर तो रखते है, लेकिन देश निर्माण करने वाले आम्बेडकर का कुछ नहीं संभाला

 240 total views

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *