देहरादून मेडिकल हब के रूप में उभर रहा है:-सीएम त्रिवेंद्र

बुधवार को मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत व केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री  अश्विनी चौबे की उपस्थिति में आनलाईन आयोजित कार्यक्रम में स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय, जौलीग्रांट देहरादून और ग्लोबल हैल्थ एलायंस, यूनाईटेड किंगडम के मध्य एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। ग्लोबल हैल्थ एलायंस, विभिन्न कोर्सेज के माध्यम से मेडिकल स्टाफ विशेष तौर पर पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ को क्वालिटी प्रशिक्षण देगा। इसी प्रकार मोटर बाईक पैरामेडिक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों संस्थाओं के मध्य इस समझौते से स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्तराखण्ड को काफी लाभ होगा। मोटर बाईक पैरामेडिक से पर्वतीय क्षेत्रों में मौके पर जाकर मरीजों को त्वरित चिकित्सा दी जा सकेगी। विश्व स्तरीय संस्था ग्लोबल हैल्थ एलायंस के द्वारा डिजाइन किये गये पाठ्यक्रमों से यहां के मेडिकल और पैरामेडिकल छात्रों का कौशल विकास होगा।  रोजगार की दृष्टि से भी युवाओं को लाभ मिल सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून मेडिकल हब के रूप में उभर रहा है।  ह्रदय रोग और डायबिटीज के ईलाज की सुविधा पर विशेष ध्यान देना होगा।

स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ विजय धस्माना ने स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय के कार्यो की जानकारी देते हुए कहा कि उत्तराखंड में स्वास्थ्य सुविधा बढाना पहली प्राथमिकता है। इस एमओयू से पैरामेडिकल स्टाफ की गुणवत्ता बढेगी।

इस अवसर पर नई दिल्ली में ब्रिटिश हाईकमिश्नर सुश्री जेन थाम्पसन, ग्लोबल हैल्थ एलायंस के डाॅ राजे नारायण, भारत में यूएनडीपी के मुख्य सलाहकार डा राकेश कुमार, उत्तराखण्ड शासन में सचिव  अमित नेगी, एसआरएचयू के कुलसचिव डाॅ विनीत महरोत्रा, डीन डाॅ मुश्ताक अहमद उपस्थित थे।

 

 344 total views

ख़बर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May have Missed