Ad

बिग ब्रेकिंग:- मुख्यमंत्री धामी आज जाएंगे केदारनाथ पीएम मोदी के दौरे की तैयारियों का लेंगे जायजा

ख़बर शेयर करें

तीर्थ पुरोहितों को मनाने और पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों का जायजा लेने को सीएम पुष्कर सिंह धामी बुधवार को केदारनाथ धाम जाएंगे। उनके साथ कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और स्वामी यतीश्वरानंद भी रहेंगे। पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे को देखते हुए सरकार अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। केदारनाथ धाम में जिस तरह सोमवार को पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत का जबरदस्त विरोध हुआ, उसे लेकर सरकार सतर्क हो गई है।न सिर्फ त्रिवेंद्र रावत, बल्कि केदारनाथ धाम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक और कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत का भी विरोध हुआ था। तीर्थ पुरोहितों ने तीन नवंबर को केदारनाथ धाम कूच का भी ऐलान किया है। इन तमाम परिस्थितियों को देखते हुए डैमेज कंट्रोल की तैयारी शुरू हो गई है। कमान स्वयं सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अपने हाथ में संभाली है।
वे बुधवार को केदारनाथ धाम रवाना हो रहे हैं। वे वहां मोर्चा खोले बैठे तीर्थ पुरोहितों से बात करेंगे। उनके रोष को शांत कराएंगे।इसके साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों को भी परखेंगे। तीर्थ पुरोहितों के विरोध के बीच सीएम के इस दौरे को बेहद अहम माना जा रहा है। इसे सरकार की ओर से तीर्थ पुरोहितों की मान मनोव्वल के एक बड़े प्रयास के रूप में देखा जा रहा है।कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने बताया कि सीएम पुष्कर धामी केदारनाथ में पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों का जायजा भी लेंगे। इसके साथ ही नाराज तीर्थ पुरोहितों से भी बात की जाएगी। वहां उनके लिए आवास बनकर तैयार हो चुके हैं, जिन्हें तीर्थ पुरोहितों को समर्पित किया जाएगा।वहीं दूसरी ओर, केदारनाथ धाम में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को देवस्थानम बोर्ड के मुद्दे को लेकर जबरदस्त विरोध का सामना करने के ठीक एक दिन बाद पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी समेत पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू सहित पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने मंगलवार को केदारनाथ धाम के दर्शन किए। मंगलवार सुबह सभी नेता पूर्व सीएम हरीश रावत के आवास पर पहुंचे थे। वहां उन्होंने काफी देर तक दोनों प्रदेशों में राजनीति हालात पर भी चर्चा की। पीएम नरेंद्र मोदी 05 नवंबर को केदारनाथ धाम में दर्शन के लिए आ रहे हैं।
पंजाब के नेताओं ने केदारनाथ धाम में पूजा-अर्चना भी की। बीते रोज केदारधाम में हुए भाजपा नेताओं के कड़े विरोध के बाद कांग्रेस नेताओं का दौरा काफी अहम माना जा रहा है। तीर्थ-पुरोहितों ने काले झंडे दिखाने के साथ ही त्रिवेंद्र के खिलाफ नारेबाजी भी की थी।विरोध-प्रदर्शन के चलते पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र को केदारनाथ के दर्शन किए बगैर वापस लौटना पड़ा।
इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने मंत्री डॉ.धन सिंह रावत और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक का भी घेराव किया। पूर्व सीएम हरीश रावत ने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए देवस्थानम बोर्ड को तत्काल प्रभाव से रद करने की मांग भी उठाई है। रावत ने कहा कि भाजपा सरकार कई सालों से चल रहे तीर्थ-पुरोहितों के अधिकार पर प्रहार करने में जुटी हुई है।

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.newsheight.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Big news :-सीएम धामी ने दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ किया , ये बड़ी घोषणा भी की

Big news :-सीएम धामी ने दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ किया , ये बड़ी घोषणा भी की

मुख्यमंत्री  पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को आई.आर.डी.टी ऑडिटोरियम, सर्वे चौक, देहरादून में दुग्ध विकास विभाग के अंतर्गत संचालित *दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना* का शुभारंभ...