प्रदेश में प्रसूता समेत तीन मरीजों में कोरोना की पुष्टि प्रदेश में अब तक 51 मामले, 28 मरीज हो चुके ठीक हरिद्वार से डिस्चार्ज हुए दो मरीज

Advertisement
ख़बर शेयर करें

देहरादून: उत्तराखंड के मैदानी क्षेत्रों में कोरोना का कहर थम नहीं रहा है। रविवार को भी यहां पर कोरोना संक्रमण के तीन नए मामले सामने आए हैं। इसमें एक मरीज एम्स ऋषिकेश का नर्सिंग स्टाफ है, जबकि दूसरी दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती प्रसूता है। वही, प्रसूता के पति में भी कोरोना की पुष्टि हुई है. नर्सिंग स्टाफ में कोरोना की पुष्टि, किसी भी स्वास्थ्य कर्मी में संक्रमण का प्रदेश में पहला मामला है। वह बीस बीघा कॉलोनी में किराए पर रहता है, जिस पर प्रशासन यह क्षेत्र सील कर दिया है। वहीं, एम्स प्रशासन ने भी संबंधित ब्लॉक सील कर यहां भर्ती समस्त मरीजों व स्टाफ की चिकित्सीय जांच कराई है। बता दें, प्रदेश में अभी तक कोरोना के 51 मामले सामने आए हैं, जिनमें 28 मरीज ठीक भी हो चुके हैं। जिनमें दो रविवार को मेला अस्पताल हरिद्वार से डिस्चार्ज हुए हैं। वर्तमान में 23 एक्टिव केस हैं।
अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने बताया कि रविवार को 256 सैंपल की रिपोर्ट मिली है। जिनमें 253 निगेटिव व तीन की रिपोर्ट पॉजीटिव है। कोरोना संक्रमित एम्स का कर्मचारी यूरोलॉजी आइपीडी में नर्सिंग ऑफिसर के पद पर कार्यरत है। 28 वर्षीय कर्मचारी में 24 अप्रैल को कोरोना के लक्षण दिखे थे। पर उसने उस दिन एम्स की स्क्रीनिंग ओपीडी में रिपोर्ट नहीं किया। 25 अप्रैल को दिक्कत बढ़ने पर उसका सैंपल लिया गया, जो पॉजिटिव आया। जिसके बाद एम्स प्रशासन ने यूरोलॉजी ब्लॉक को सील कर दिया है। यूरोलॉजी आइपीडी में भर्ती सभी मरीजों के सैंपल लिए गए हैं। जिन्हें रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही डिस्चार्ज किया जाएगा। आइपीडी ब्लॉक भी क्वारंटाइन किया गया है और फिलहाल यहां नए मरीज भर्ती नहीं किए जाएंगे। वहीं बीस बीघा कॉलोनी गली नंबर-3, जहां कर्मचारी किराए पर रह रहा था उसे भी सील कर दिया गया है। उसके संपर्क में आए दो दुकानदारों और दूधिया समेत सात लोगों को जीएमवीएन के विश्राम गृह में क्वारंटाइन किया गया है। इसके अलावा दून अस्पताल में भर्ती आजाद कॉलोनी निवासी 32 वर्षीय प्रसूता की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। कोरोना के पांच मामले सामने आने पर आजाद कॉलोनी को पहले ही सील किया जा चुका है। महिला के पाबंद क्षेत्र से होने के कारण उसका सैंपल लिया गया था। शनिवार को उसकी डिलवरी हुई है और जच्चा-बच्चा दोनो स्वस्थ हैं। उन्हें आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। महिला के पति, उसके साथ रही अटेंडेंट व बच्चे का सैंपल भी एहतियातन जांच के लिए भेजा गया था। देर रात को महिला के पति की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है लिहाजा उसे दून अस्पताल में भर्ती किया गया है.

Advertisement

 277 total views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *